July 19, 2024

अजमेर (मुकेश वैष्णव ) नसीराबाद पर सघन वन क्षेत्र एवं वृक्षारोपण कार्यक्रम रविवार को श्रीमती अनिता मित्तल, अध्यक्ष, नगरपालिका नसीराबाद के सानिध्य में आयोजित किया गया। कार्यक्रम के तहत रामसर रोड स्थित मोक्ष धाम में 25 विभिन्न प्रजातियों के 800 पौधे लगाये जाकर 02 सघन वन क्षेत्र तैयार किये गये।

कार्यक्रम में नसीराबाद शहर की आमजनता सहित भारत विकास परिषद्, रॉटरी क्लब, सेवा भारती, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, महाकाल ग्रुप, जन सेवा समिति, युवा पठनालय, मां भारती परिवार, नगरपालिका ठेकेदार संघ ने भी भाग लिया। श्रीमती अनिता मित्तल, अध्यक्ष, नगरपालिका नसीराबाद द्वारा अपने उद्बोधन में बताया गया कि हमारे राष्ट्र के यशस्वी प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा ‘‘एक पेड़ – मां के नाम‘‘ की थीम पर देश के नागरिकों से अधिकाधिक वृक्षारोपण किये जाने की अपील की गई है।

इसी क्रम में हमारे मुख्यमंत्री श्री भजनलाल शर्मा द्वारा भी ‘‘एक पेड़ – मां के नाम‘‘ पर लगाया जाकर हाल ही में राजस्थान प्रदेश को हरा भरा किये जाने की दिशा में पहला कदम बढ़ाया है। इसी क्रम में नगरपालिका नसीराबाद द्वारा भी इस बार 5000 पौधारोपण का लक्ष्य लेकर कार्य किया जा रहा है। इस हेतु श्री गोविन्दसिंह गुर्जर राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय में 20 विभिन्न प्रजातियों के 500 पौधे लगाये जाकर सघन वन क्षेत्र तैयार किया जा चुका है। आगामी दिनों में जवाहर नवोदय विद्यालय परिसर में 500 पौधो से 1 एवं राजकीय कन्या महाविद्यालय में 600 पौधो से 1 सघन वन क्षेत्र (नवग्रह वाटिका एवं आयुर्वेंद वाटिका) तैयार किया जाना है। इस हेतु 2500 गढ्ढे भी करवाये जा चुके है तथा खाद पानी की व्यवस्था भी की जा रही है।

इसके साथ ही नगरपालिका द्वारा विभिन्न राजकीय कार्यालयों, विभिन्न उद्यानों, मुख्य मार्गो, SWM PLANT, MRF PLANT पर भी पौधें लगाये जायेंगे। IRGY योजनान्तर्गत इनकी देखभाल नगरपालिका नसीराबाद द्वारा की जायेगी।

श्रीमती अध्यक्ष महोदया द्वारा ‘‘एक पेड़ – मां के नाम‘‘ की थीम पर आमजन एवं विभिन्न सामाजिक संस्थाओं से अधिक से अधिक संख्या में वृक्षारोपण कर ‘‘पेड़ लगाओं, प्रकृति बचाओं‘‘ व ‘‘स्वच्छ नसीराबाद हरित नसीराबाद‘‘ के लक्ष्य को साकार करने की अपील की गई।
शंकरलाल, प्रान्त कार्यवाह, रा.स्व.सं. द्वारा अपने उद्बोधन में बीते दिनों की भीषण गर्मी का जिक्र करते हुए वृक्षारोपण का महत्व बताया और कहा कि केवल पेड़ लगाने से इतिश्री नही करनी है, बल्कि पालक के रुप में दिन प्रतिदिन उन्हें सिंचित कर बड़ा भी करना है। वातावरण को शुद्ध रखने हेतु सुन्दर दिखने वाले पौधों के स्थान पर पीपल, बड़, नीम इत्यादि के पौधे लगाने हेतु प्रेरित किया, ये पेड़ वातावरण में कार्बनडाई ऑक्साइड को सोंखकर ऑक्सीजन की मात्रा बढ़ाते है, जिससे प्रकृति में शुद्ध वायु का प्रवाह बना रहता है। इसी क्रम में गीत ‘‘स्वयं अब जागकर हमकों, जगाना देश है अपना, हमारे देश की मिट्टी, हमें प्राणों से प्यारी है‘‘ के माध्यम से आमजन को प्रेरणा दी गई।

सुशील गदिया, सदस्य, छावनी परिषद्, नसीराबाद द्वारा अपने उद्बोधन में मनुष्यों द्वारा प्रकृति को दुष्कृत किये जाने एवं ग्लोबल वार्मिंग के कारण भोले बाबा का शिवलिंग एक माह के स्थान पर 6 दिन में ही पिघल जाने का उदाहरण देकर बताया कि वृक्षारोपण किया जाना बहुत आवश्यक है।

इस दौरान विजय कुमार सांखला उप अधीक्षक, नसीराबाद, अनिता खुराना प्राचार्य राजकीय कन्या महाविद्यालय नसीराबाद, महेन्द्र डाबी पार्षद, सरोज बिस्सा पार्षद, प्रदीप मित्तल – समाजसेवी, गोविन्द जिन्दल – जिला संघचालक, रा.स्व.सं., एड. संदीप अग्रवाल – खण्ड संघचालक, रा.स्व.सं., नितिन सिंघल, सतीश पारचे, एड. ललित मेहरा, भा.वि.प. से चन्द्रप्रकाश बंसल, रवि सोनी, संजय कंसल, रॉटरी क्लब से मुकेश मित्तल, द्वारकाप्रसाद ऐरन, महाकाल ग्रुप से गगन मेहरा, हितेश कुमार मोदी, मां भारती परिवार से विविध गोयल (नन्नू), सुभाष सेठी, वरिष्ठ शारीरिक शिक्षक लक्ष्मणसिंह सैनी, नगरपालिका नसीराबाद स्टाफ राम अवतार वर्मा, ध्यानदास, आकाश घुस्सर, पूजा गुर्जर, उपदेश शर्मा, अक्षय सोनी, लीलाधर भाटी, प्रेमसुख रियाड़, मनीष कुमार मीणा, सतवीर माली, नगरपालिका ठेकेदार संघ से महेन्द्र प्रजापत, ओम गोस्वामी, राजीव चौधरी, घनश्याम प्रजापत, करण चौधरी एवं शहरी नरेगा लाभार्थियों की उपस्थिति रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *