July 19, 2024

अजमेर (मुकेश वैष्णव ) देवाधिदेव महादेव की पवित्र नगरी काशी विश्वनाथ वाराणसी में 9 व 10 जून को अखिल भारतीय वैष्णव ब्राह्मण महासभा अजमेर का राष्ट्रीय अधिवेशन सफलतापूर्वक संपन्न हुआ। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि स्वामी श्री बालक दास जी महाराज नरहर्यानदी गोत्र के पातालपूरी पीठाधीश्वर के कर कमलों द्वारा आराध्य देव के चित्र के समक्ष दीप प्रज्वलन एवं ईश्वर वंदना के साथ शुभारंभ हुआ।

महासभा के राष्ट्रीय महासचिव बिरदी चंद वैष्णव केकड़ी ने बताया कि कार्यक्रम के मुख्य अतिथि एवं विशिष्ट अतिथि महंतजगदीशवर दास जी, गणपत लाल वैष्णव नरहियानन्दी सांवतसर, राधा कृष्ण किलावत इंदौर, बुल्लाराम वैष्णव कोयंबटूर, महावीर वैष्णव कोयम्बटूर, लोकेश वैष्णव दिल्ली, थिरपाल दास वैष्णव जैसलमेर, एन डी निमावत जोधपुर, गोपाल रामावत करनूल, रमेश वैष्णव सतगुरु मार्बल कोटा, चंद्र प्रकाश वैष्णव बिजोलिया , राधेश्याम वैष्णव सागानेर, विष्णु शोभावत अजमेर, रघुनाथ वैष्णव चुरली, बृजमोहन गगवाना का स्वागत अध्यक्ष श्याम सुंदर वैष्णव हरिद्वार, छात्रावास अध्यक्ष सुभाष चन्द्र वैष्णव खोड़ा गणेश, राधाकृष्ण कीलावत, श्रीकृष्ण वैष्णव अजमेर व सत्यप्रकाश तबीजी ने किया।

महासचिव बिरदी चंद वैष्णव ने महासभा का प्रतिवेदन प्रस्तुत किया ।

पीठाधीश्वर श्री बालक दास जी महाराज ने सामाजिक संस्कारों पर बल देते हुए , सयुक्त परिवार में रहने पर जोर दिया। इंदौर से पधारे राधा कृष्ण किलावत ने चतु:सम्प्रदाय के मंत्र दीक्षा की सरल भाषा में जानकारी दी ।

जैसलमेर से पधारे थीरपाल दास वैष्णव ने वैष्णव चतु:सम्प्रदाय समाज की उत्पति, वंश परंपरा , गुरुकुल ब्रह्मचर्य, ओर गृहस्थ व्यवस्था की सटीक जानकारी सदन के समक्ष रखी ।अधिवेशन के खुला मंच सत्र में गोपाल दास कादेड़ा सहित अनेक वक्ताओ ने समाज में फैली सामाजिक कुरीतियों के निवारण की बात कही ।
अधिवेशन में शैक्षिक प्रतिभाओं का सम्मान शिक्षा निधि द्वारा एक हजार नकद राशि, मोमेंटो, दुपट्टा पहनाकर किया गया ‌।

शिक्षा निधि के महासचिव परमेश्वर टीलावत ने शिक्षा निधि का प्रतिवेदन प्रस्तुत करते हुए समाज में शिक्षा, संस्कार और रोजगार पर विकास की बात कही । अधिवेशन के दौरान वैष्णव ब्राह्मण समाज की ज्वलंत समस्या डोली भूमि, मृत्यु भोज, शिक्षा, संस्कार और चारों संप्रदायों के मंत्र, संप्रदाय आदि पर अधिवक्ताओं ने अपने विचार रखें।

अधिवेशन में कार्यक्रम के सभी भामाशाहों का मोमेंटो , दुपट्टा पहनाकर स्वागत अभीनंदन किया ।
राष्ट्रीय अधिवेशन काशी में महासभा राष्ट्रीय अध्यक्ष श्याम सुंदर वैष्णव ने समाज से जुड़े अनेक प्रस्ताव सदन के समक्ष रखे , जिनको पूरे सदन ने सर्वसम्मति से पारित किया , जो आने वाले समय में वैष्णव समाज के लिए मील का पत्थर साबित होंगे।

जिसमें मृत्यु भोज को परिवार एवं नजदीकी रिश्तेदारों तक सीमित रखने एवं पेरावणी बंद ,अमल तम्बाकू वैगरह बंद करने पर सर्वसम्मति से प्रस्ताव पास हुआ ।
शादी से पहले लड़के लड़की की फोटो ग्राफी (प्रिवेडिग )बंद ।दुल्हा शादी के मंण्डप में दाढ़ी नहीं रखेगा प्रस्ताव पास हुआ । अपने बच्चों की शादी (योग्य वर वधु देखकर )25 साल तक की जावे। प्रस्ताव सर्वसम्मति से पास किया गया।

साथ ही लाइब्रेरी स्थापना में सहयोग एवं उच्च शिक्षा के लिए मेघावी गरीब बच्चों को सहयोग के लिए 11,00,000 ग्यारह लाख का कोष बनाने पर सहमति प्रदान की गई।

महासभा अध्यक्ष श्याम सुंदर वैष्णव हरिद्वार ने अगला राष्ट्रीय अधिवेशन द्वारिका गुजरात में दिसंबर 2025 में आयोजन करने की घोसना की ।अधिवेशन में सांस्कृतिक कार्यक्रम में गुजरात से आई हुई प्रख्यात नृत्यांगना प्रतिभा लश्करी व उनकी बेटी ने कत्थक नृत्य, व एक अन्य ने सत्यम शिवम सुंदरम सहित अनेक शानदार प्रस्तुति दी। समाज बंधुओ ने कार्यक्रम में भरपूर तालिया बजाकर सराहना की ।

गर्मी के मध्य नजर रहने हेतु वातानुकूल और कूलर लगे कमरों की व्यवस्था के साथ-साथ भोजन और जलपान की व्यवस्था भी सुचारू रूप से की गई।
जयंत वैष्णव RTO अजमेर , बालकृष्ण बैरागी भीलवाड़ा, जुगल किशोर रामावत कोयम्बतूर ,पवन वैष्णव खोड़ा गणेश, लक्ष्मी नारायण वकील अजमेर , रमेश वैष्णव सतगुरु उधोग कोटा , राधेश्याम वैष्णव सांगानेर, गोपाल रामावत कुर्नूल ,एडवोकेट एन डी निमावत ,पदम वैष्णव कोटा, अखिलेश वैष्णव आसींद, परमेश्वर टीलावत केकड़ी, प्रेम दास वैष्णव खेतासर , श्रीमती कौशल्या वैष्णव, मंजू वैष्णव जयपुर , पिंकी वैष्णव कोटा, नीतू वैष्णव समदड़ी, प्रतीभा लश्करी , आर के वैष्णव जयपुर , रामजीलाल वैष्णव जयपुर , सीयाराम वैष्णव जयपुर, राजेन्द्र वैष्णव सांवतसर, गणेश वैष्णव केकड़ी अमर वैष्णव सरेरी , महेश वैष्णव पत्रकार भीलवाड़ा, ओम वैष्णव बदनोर, मंगल वैष्णव अजमेर, विनोद वैष्णव अजमेर, अरविंद वैष्णव पिलवा , केदार वैष्णव भीलवाड़ा, रामस्वरूप वैष्णव भीलवाड़ा, अर्जुन वैष्णव ऑन लाइन सहित सभी की अधिवेशन में सराहनीय भागीदारी रही । अधिवेशन में वैष्णव मीडिया टीम का भी स्वागत सत्कार किया गया ।

इस कार्यक्रम के सफल आयोजन के लिए सभी पधारे हुए समाज बंधुओ ने अध्यक्ष श्याम सुंदर वैष्णव हरिद्वार और सभी कार्यकर्ताओं का बहुत बहुत हार्दिक आभार प्रकट किया।

अधिवेशन के समापन सत्र में महासभा अध्यक्ष श्याम सुंदर हरिद्वार ने देशभर से कार्यक्रम में पधार अधिवेशन को सफल बनाने पर आभार व्यक्त किया ।
अधिवेशन के खास मेहनती कार्यकर्ताओ में श्री किशन वैष्णव अजमेर, सत्य प्रकाश वैष्णव तबीजी, प्रकाश वैष्णव आखरी, ओम वैष्णव मोहनपुरा, राजू राजेंद्र वैष्णव, राधेश्याम वैष्णव व गजेंद्र हलवाई का भी आभार प्रकट किया ।

विष्णु प्रकाश वैष्णव ठेकेदार कार्यकारी अध्यक्ष महासभा , अजय वैष्णव दिल्ली, बृजमोहन वैष्णव गगवाना, महेन्द्र वैष्णव टुमकुर, बाबूदास वैष्णव खेतासर, सत्यनारायण वैष्णव मार्तण्ड संपादक, उत्तम वैष्णव ताजपुरा , चित्तौड़गढ़ युवा अध्यक्ष महासभा, राधेश्याम वैष्णव, भंवरलाल वैष्णव, दशरथ वैष्णव , प्रेम वैष्णव, घनश्याम वैष्णव, मुकेश वैष्णव रामालिया हाल निवासी कोयम्बतूर , बालमुकुंद वैष्णव कटार, कमलेश वैष्णव दातडा, किशनलाल वैष्णव तिहारी, अनिल कुमार टिलावत अजमेर, गणेश दास वैष्णव राजसमंद , वैष्णव सेवा समिति नसीराबाद, वैष्णव बैरागी विकास समिति धर्मशाला समिति डिग्गी एवं वैष्णव चतु सम्प्रदाय विकास समिति जयपुर जिला, महंत रामगोपाल वैष्णव बारणी,छोटूलाल वैष्णव अहमदाबाद, किशोर कुमार वैष्णव कोयम्बतूर, जगदीश वैष्णव सरसडी गेट, दिलीप वैष्णव पीसांगन, गिरीराज वैष्णव पुष्कर, रघुनाथ वैष्णव चुरली यह सभी भामाशाह अधिवेशन में आवश्यक कार्य वश नहीं आ नहीं पायें। लेकिन इन सभी समाज बंधुओं ने विशेष सहयोग देकर अधिवेशन को ऐतिहासिक सफल बनाया इसके लिए इन सभी का दिल से आभार एवं धन्यवाद प्रगट किया गया। कार्यक्रम में बिरदी चंद वैष्णव केकड़ी द्वारा शानदार मंच संचालन किया गया।